आमतौर पर बातचीत के शुरुआत में एक प्रश्न उठता है – आप क्या करती हैं ?

आपका जवाब होता है – मैं एक गृहिणी हूँ.

तो क्या आप बेरोजगार हैं ?

घर की साफ-सफाई, दिनभर भोजन की व्यवस्था, बच्चों एवं माता-पिता की देखभाल, राशन-सब्जी का ख्याल, आदि आदि. आपके कार्यों की लिस्ट बहुत लम्बी है.

इसलिए गृहिणी बेरोजगार नहीं है. आपका 24 घंटे X 365 दिन का जॉब है. और वो भी बिना अवकाश के.

इस 24 X 365 जॉब का वेतन ?

घर के मासिक बजट में सबके लिए प्रावधान होता है. राशन, सब्जी, दूध, आदि घर खर्च. बच्चों की फीस, ड्रेस, किताबें, इत्यादि खर्च. अखबार, पेट्रोल और पति का जेब खर्च.

मासिक बजट में आपके लिए क्या है ? एक गृहिणी के तौर पर आप वेतन की हकदार हैं. हमारी न्याय प्रणाली ने भी इसे स्वीकार किया है. अपने पति से बात करें और अपना हक प्यार से लें.

गृहिणी को वेतन क्यों ?

  1. 24 X 365 जॉब के लिए.
  2. आकस्मिक जरूरतों के लिए. जैसे, अचानक बीमारी की परिस्थिति में आप मदद कर सकती हैं.
  3. कठिन समय में सहयोग के लिए. जैसे, बच्चों की फीस देने में.
  4. अपनी निजता की रक्षा के लिए. अपनी सहेली की आर्थिक मदद के लिए आपको पति से माँगने की जरूरत नहीं.
  5. अपनी जरूरतों के लिए. पार्लर, किट्टी पार्टी, कपड़े, गहने, …
  6. अपने वजूद और स्वाभिमान के लिए.

कितना वेतन और कैसे प्राप्त करें ?

उच्च न्यायालय ने एक गृहिणी के विभिन्न कार्यों के लिए वेतन का आधार तय कर रखा है. वैसे अर्धांगिनी कहे जाने के अनुसार आपका आधे भाग पर हक बनता है.

आपसी विचार-विमर्श से अपना वेतन तय करें. पति के मासिक वेतन का 10% से कम नहीं होना चाहिए. और अन्य जरूरतों की भी पूर्ति होनी चाहिए.

आपका अपना अलग बैंक खाता होना चाहिए जिसमें पति या बच्चे नॉमिनी हों.

अपना वेतन कभी नगद रूप में नहीं लें. हर महीने standing instruction द्वारा अपने बैंक खाते में जमा करवाएं. और यह जिम्मेदारी आपके पति की है.

शॉपिंग के लिए अपने डेबिट (ATM) कार्ड का इस्तेमाल करें. नगद की जरूरत हो तो ATM से निकालें.

क्यों और कहाँ निवेश करें ?

औसत महँगाई दर 7% रहती है. जिससे रूपए के मूल्य में गिरावट होती है. और पैसे नगद रखने में यह नुकसान है. इसलिए मँहगाई को मात देने के लिए उचित निवेश आवश्यक है.

बैंक बचत खाता रिटर्न मात्र 3.5% वार्षिक है. बैंक FD 6.5% वार्षिक रिटर्न देता है मगर FD में आपका पैसा लॉक हो जाता है. समय से पहले FD तोड़ने पर जुर्माना लगता है.

निवेश के लिए म्यूचुअल फ़ंड सही है. और आपके लिए लिक्विड फ़ंड. बहुत कम जोखिम के साथ बेहतर रिटर्न. लिक्विड फ़ंड का रिटर्न लगभग 7 से 8% वार्षिक होता है. आप जब चाहें निवेश करें और जब चाहें निकाल लें, कोई जुर्माना नहीं.

तो हुआ ना उचित निवेश = किट्टी पार्टी फ्री !

कैसे निवेश करें ?

मैं हूँ ना ! आपके निवेश संबंधी सभी आवश्यकताओं के लिए.

सबसे पहले KYC जरूरी है. इसके लिए आपका पैन कार्ड, आधार कार्ड और एक फोटो चाहिए. यदि आपका पैन कार्ड नहीं बना है, तो हम आपकी मदद करेंगे.

आपके बैंक खाता का विवरण चाहिए. एक निरस्त चेक की जरूरत होगी.

KYC और बैंक खाता होने के बाद आप SIP द्वारा हर महीने नियमित रूप से निवेश कर सकती हैं. हर निवेश का statement आपकी मेल पर भेज दिया जाता है.

और कैसे निकालें ?

सबसे आवश्यक बात है कि जरूरत हो तभी निकालें. पैसा जितना अधिक समय निवेशित रहेगा, रिटर्न उतना अधिक मिलेगा.

निकासी के लिए मुझे बताएँ. Redemption यानि बेचने के अगले दिन पैसा आपके बैंक खाते में स्वत: आ जाएगा. और हर निकासी का statement आपको मेल पर मिल जाएगा. ताकि आपको अपने पैसे की सम्पूर्ण जानकारी रहे.

निवेश या निकासी के समय, कभी भी, आपका पैसा हमारे खाते से नहीं गुजरता. सीधा फ़ंड में जाता है और वहाँ से आपके खाते में.

परिवार और पैसा – दोनों जिम्मेदारी ?

ठान लें तो आप क्या नहीं कर सकतीं हैं. आप ही अन्नपूर्णा हैं और आप ही लक्ष्मी भी. माँ दुर्गा भी आप हैं और माँ सरस्वती भी.

इतिहास में हों या आपके आस-पास. महिलाओं ने हर क्षेत्र में नाम किया है. रानी लक्ष्मीबाई (वीरता), कल्पना चावला (अंतरिक्ष), मदर टेरेसा (मानवता), मैरी कॉम (बॉक्सिंग), आदि, आदि, …

व्यापार और बैंकिंग के क्षेत्र में भी महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा है. इंदिरा नूयी (पेपसिको), किरण मजूमदार (बायोकॉन), शिखा शर्मा (एक्सिस बैंक), सोहिनी अंदानी (SBI ब्लूचिप फ़ंड), आदि …

म्यूचुअल फ़ंड निवेश रॉकेट सांइस नहीं है. और मैं भी तो हूँ.

मैं ही क्यों ? मेरा क्या स्वार्थ ?

वित्तीय स्वतंत्रता से ही नारी को शक्ति मिल सकती है, सिर्फ नारेबाजी से नहीं. इसी वजह से आपकी आर्थिक मजबूती ही मेरा उद्देश्य है.

मेरी मजदूरी = आपके निवेश राशि का 0.1 से 0.2%. यानि आपके 100रु पर 10 से 20 पैसा. और यह पैसा फ़ंड हाउस द्वारा अपने खर्चे में से दिया जाता है, आपके निवेश राशि में से नहीं.

आपके निवेश सलाहकार के रूप में मेरी पूरी जिम्मेदारी है कि मैं आपका हित सर्वोपरि रखूँ. और आपका विश्वास बनाए रखूँ.

निवेश शुरु करने की मूलभूत आवश्यकताएँ:

  1. बैंक खाता. निरस्त चेक.
  2. पैन कार्ड.
  3. आधार कार्ड.
  4. फोटो.

मुझसे सम्पर्क करने के लिए मेल करें : mallik.reena@gmail.com या फोन करें : 94111-60411.